Contact Information

Theodore Lowe, Ap #867-859
Sit Rd, Azusa New York

We Are Available 24/ 7. Call Now.

बॉलीवुड जगत में ऐसे कई मशहूर कलाकार हुए हैं. जिन्होंने अपनी दमदार आदायगी से भौकाल बना दिया. यही वजह भी है कि लोग उन्हें उठते-बैठते, सोते-जागते याद करते हैं.

और ये उस शख्सियत के लिए भी होता है-होता था. जिसके बारे में आज हम बात करने जा रहे हैं

नाम है. सुनील दत्त.

बॉलीवुड एक्टर सुनील दत्त ने फैन्स को हिंदी सिनेमा के कई बेहतरीन किरदार दिए हैं. बड़े पर्दे पर डाकू के किरदार में छा जाने वाले सुनील दत्त ने बहुत से मजेदार किरदारों को निभाकर ये साबित किया कि वे एक वर्सेटाइल एक्टर हैं. साथ ही उन्होंने अपने समय में कई बढ़िया फिल्मों का निर्माण और निर्देशन भी किया.

sunil dutt

लेकिन क्या आपको पता है कि सुनील दत्त का बचपन मुश्किलों से भरा था और एक समय उनकी जान पर भी आ बनी थी.

सुनील दत्त का जन्म पाकिस्तान के पंजाब डिस्ट्रिक्ट में पड़ने वाले झेलम में हुआ था. मात्र 5 साल की उम्र में उन्होंने अपने पिता दीवान रघुनाथ दत्त को खो दिया. जब भारत और पाकिस्तान का बंटवारा हुआ. तब सुनील दत्त 18 साल के थे. इस बंटवारे में हिन्दू-मुस्लिम लोगों के बीच खून की होली खेली जा रही थी, जिसमें सुनील दत्त अपने परिवार संग फंस गए थे. तब उनके पिता के दोस्त याकूब, जो कि एक मुस्लिम थे. उन्होंने सुनील दत्त और उनके परिवार को बचाया था.

पाकिस्तान से भारत आकर सुनील दत्त पंजाब के यमुना नगर के छोटे से गांव मंदुअली में बसे थे. ये गांव अब हरियाणा में पड़ता है. इसके कुछ सालों बाद वे अपनी मां कुलवंतीदेवी दत्त को साथ लेकर लखनऊ शिफ्ट हुए, जहां की अमीनाबाद गली में उन्होंने सालों बिताएं और स्नातक की पढ़ाई पूरी की. फिर वे मुंबई शिफ्ट हुए और जय हिन्द कॉलेज से पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के बाद हमेशा के लिए वहीं बस गए.

जबरदस्त रहा दत्त साहब का फ़िल्मी करियर

सुनील दत्त ने अपने करियर की शुरुआत रेडियो में काम से की थी. वे साउथ एशिया की सबसे पुरानी रेडियो सर्विस Radio Ceylon के हिंदी चैनल में काम करने के लिए मशहूर थे. उन्होंने 1955 में अपना बॉलीवुड डेब्यू किया था. 1955 की फिल्म रेलवे प्लेटफार्म में वे राम के किरदार में नजर आए थे. सुनील दत्त ने अपने करियर की लगभग 20 फिल्मों में एक डकैत का किरदार निभाया था. साथ ही उन्होंने पड़ोसन, मेहरबान, जमीन आसमान और मदर इंडिया जैसी फिल्में भी कीं.

sunil dutt

सुनील दत्त ने अपने बेटे संजय दत्त का करियर भी बॉलीवुड इंडस्ट्री में शुरू किया था. उन्होंने साल 1981 में आई फिल्म ‘रॉकी’ से संजय दत्त को लॉन्च किया था. तो वहीं संजय दत्त के साथ फिल्म ‘मुन्नाभाई एमबीबीएस’ में उन्हें पहली बार स्क्रीन शेयर करते हुए देखा गया था. संजय दत्त के साथ सुनील दत्त ने ‘रॉकी’, ‘क्षत्रिय” और ‘रेशमा’ और ‘शेरा’ जैसी फिल्मों में काम तो किया था, लेकिन कभी दोनों साथ नजर नहीं आए थे.

sunil dutt

आज उनके न होने के बावजूद भी फिल्म जगत में सुनील दत्त साहब का नाम बड़े ही सम्मान के साथ लिया है.

Share:

administrator