Contact Information

Theodore Lowe, Ap #867-859
Sit Rd, Azusa New York

We Are Available 24/ 7. Call Now.

जब भी क्रिकेट की बात आती है. तब एक नाम जरुर कानों में गूंज उठता है. और ये नाम महज़ कानों में ही नहीं दुनिया के बड़े से बड़े स्टेडियम में भी गूंज उठता है. और ये नाम है. सचिन… सचिन…

पूरा नाम सचिन रमेश तेंदुलकर.

मानों इस नाम के बगैर क्रिकेट की कहानी अधूरी सी लगती है. यही वजह है कि इस खिलाड़ी को भगवान का दर्जा मिल चुका है. तो आज की बात क्रिकेट के भगवान के नाम.

sachin tendulkar

दरअसल, सचिन तेंदुलकर के बारे में पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने बड़ी बात कही है.

भारत के पूर्व बल्लेबाज संजय मांजरेकर का मानना है कि 1990 के दशक में भारतीय क्रिकेट टीम सचिन तेंदुलकर पर कुछ ज्यादा ही निर्भर थी. सचिन को वर्ल्ड क्रिकेट में भगवान का दर्जा प्राप्त है और वह इस खेल के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में गिने जाते हैं.

sachin tendulkar

संजय मांजरेकर ने भारतीय टीम के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के साथ इंस्टाग्राम पर बातचीत में कहा-

‘सचिन तेंदुलकर ने साल 1989 में डेब्यू किया. एक साल के अंदर उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 80 रनों की पारी खेली. 1991-1992 में इंग्लैंड के खिलाफ उन्होंने पहला शतक बनाया.’

“साफ़ है कि उस दिन पवेलियन लौटते-लौटते सचिन तेंदुलकर में क्रिकेट का भगवान दिखने लगा था.”

मांजरेकर ने कहा, ‘पूरा विश्व उनकी तरफ उम्मीदों से देख रहा था. उम्र हमेशा से एक मुद्दा थी, वो सिर्फ 17 साल के थे. वो जिस तरह से विश्व स्तर के आक्रमण पर हावी होते थे वो देखने लायक था. हमारे लिए टीम में इसमें कोई शक नहीं था कि यह खिलाड़ी अलग स्तर का खिलाड़ी है.’

sachin tendulkar

मांजरेकर ने कहा, ‘दुर्भाग्यवश, 1996-1997 तक टीम सचिन पर काफी हद तक निर्भर हो गई थी, क्योंकि वह बेहद निरंतरता के साथ खेल रहे थे और वो भारत के पहले ऐसे खिलाड़ी थे जो हावी होते और अच्छी गेंदों पर भी रन बनाते थे.’

दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘तब तक भारतीय टीम डिफेंसिव बल्लेबाजी के लिए जानी जाती थी, जो खराब गेंदों को बाहर भेजते थे.’

sachin tendulkar

मांजरेकर ने कहा, ‘जैसे की सुनील गावस्कर, कुछ सत्र गेंदबाज को सम्मान दिया और फिर वो थकने के बाद खराब गेंद फेंकेगा और आप उस पर रन बनाओगे. सचिन बेहतरीन गेंदबाज की गेंद को भी बाउंड्री पर भेज देते थे.’

sachin tendulkar

और यही वजह है कि उनकी स्ट्रेट ड्राइव को देख आज भी दिल को सुकून मिल जाता है.

Share:

administrator